Special Report

खबर विशेष : क्या है Tipu Jayanti विवाद ?Punjabkesari TV

55 views 2 months ago

मैसूर के शासक रहे टीपू सुल्तान का जन्‍म 10 नवंबर 1750 को कर्नाटक के देवनाहल्ली (यूसुफ़ाबाद) में हुआ था।  

 

अंग्रेजों से मुकाबला करते हुए श्रीरंगपट्टनम की रक्षा करते हुए 4 मई 1799 को टीपू सुल्तान की मौत हो गई थी।

 

कर्नाटक में कांग्रेस-जेडी(एस) गठबंधन सरकार आज टीपू जयंती मना रही है।  

 

बीजेपी और हिन्दू संगठनों के विरोध के चलते ऐहतियात के तौर पर श्रीरंगापट्टनम और कोडागू में शुक्रवार शाम से रविवार सुबह तक धारा 144 लागू कर दी गई है

 

कर्नाटक की कांग्रेस सरकार के अनुसार टीपू सुल्तान देशभक्त थे जिसने अंग्रेजों से मुक़ाबला किया। 

 

वहीं, बीजेपी और कई हिन्दू संगठन टीपू सुल्तान को हत्यारा और तानाशाह मानती है जिसने हिन्दुओं को ज़बरदस्ती इस्लाम कबूल करवाया। 

 

भाजपा का आरोप है कि सरकार  यह काम अल्पसंख्यकों को खुश करने के लिए कर रही है। 

 

कर्नाटक में 2011 की  जनगणना के मुताबिक लगभग 13 प्रतिशत मुसलमान हैं। 

 

कर्नाटक की सरकार 2015 से टीपू सुल्तान की जयंती मना रही है। 

 

पिछले तीन सालों में टीपू जयंती मनाने को लेकर हिंसक विरोध प्रदर्शन हुए हैं। 

 

2015 में विरोध प्रदर्शन के दौरान विश्व हिंदू परिषद के एक कार्यकर्ता समेत तीन लोगों की मौत हो गई। 

 

2017 में बीजेपी के केंद्रीय मंत्री अनंत कुमार हेगड़े ने ट्वीट करके इस कर्नाटक सरकार के टीपू जयंती  कार्यक्रम में शामिल होने से इन्कार कर दिया। उन्होंने टीपू को बलात्कारी, बर्बर हत्यारा और हिंदुओं का विरोधी करार दिया।